आनद तिवारी पौरणिक
जन्‍म महासमुंद में 4 दिसम्‍बर 1949 को, तिवारी जी छात्र जीवन में ही ‘लहर’ नामक हस्‍तलिखित पत्रिका का संपादन करते थे। इनकी छत्‍तीसगढ़ी कृतियॉं है ‘पिरीत के पुरईन पान’, ‘खल्‍लारी चालिसा’ और ‘खल्‍लारी महात्‍तम’ एंवं हिन्‍दी में ‘भावांजलि’ बालिका कविता संग्रह ‘कितना अच्‍छा होता’, कई कवियों की कविताओं का संकलन संपादन ‘अंजुरी म अकास’। पत्रिका ‘मयारूक बहिनी’ के प्रधान संपादक।
गुरतुर गोठ में संग्रहित रचनायें .