लक्ष्‍मण कुम्हार : कोमल यादव के कविता


छत्तीसगढीहा माई के दुलार
डांस इण्डिया बर रहिस तइयार
ददा हे जेखर रिक्शा चरवार
नाव हे लक्षमण कुम्हार।

पन्नी बिनइया लइका के
सोनी टी वी करिस उद्धार
नाव हे लक्षमण कुम्हार।

अपन मेहनत लगाके
कूड़ा कचरा मा मन बहलाके
डांस ला इहाँ करिस साकार
नाव हे लक्षमण कुम्हार।

कार्ट व्हील पहचान हे जेखर
जम्मो नचईया मुंह ताके ओखर
टॉप 5 में जगह बनइया
नई हे तोर असन कोनो नचईया
तैं हर अस अड़बड़ हुशियार
नाव हे तोर लक्षमण कुम्हार।

कोमल यादव
खरसिया,रायगढ़(छ.ग.)
मो.न. 9977562133

One Thought to “लक्ष्‍मण कुम्हार : कोमल यादव के कविता”

  1. shakuntala sharma

    प्रतिभा कभु धन के मोहताज़ नई रहय, ए बात ल सिद्ध कर दिस – लक्ष्मण कुम्हार । छ्त्तीसगढ म प्रतिभा मन के कमी नई ए । लक्ष्मण के आत्म – विश्वास हर प्रणम्य हे ।

Comments are closed.