छायावाद के प्रवर्तक कवि

मुकुटधर पांडेय के जनम महानदी के तट म बसे गांव बालपुर म 30 सितंबर 1895 म अउ मृत्‍यु 6 नवंबर 1989 म होय रहिस। मूलत: उन हिन्‍दी के पुरोधा कवि आय। फेर उन अपन बुढ़त काल म महाकवि कालिदास के मेघदूत के छत्‍तीसगढी़ अनुवाद करके छत्‍तीसगढी़ भासा ल बड़ मान्‍यता दिलाइन। उंकर परकासित ग्रंथ ये प्रकार के हबय (1) पूजाफूल (काव्‍य संग्रह) लच्‍छमा सैलबाला मामा (उडि़या ले अनूदित उपन्‍यास) परिश्रम (निबन्‍ध) हदयदान (कहानी) विश्‍वबोध (काव्‍य संग्रह) छायावाद तथा अन्‍य श्रेष्‍ठ नि‍बंध उंकर प्रसिद्ध ग्रंथ आय।